ईरान-पाकिस्तान की लड़ाई में कूदा चीन, जिनपिंग ने PAK को दिया ये भरोसा – Iran Pakistan Tension China Will Help PAK To Maintain sovereignty territorial integrity NTC


ईरान और पाकिस्तान के बीच दुश्मनी को कम करने के लिए दोनों का दोस्त चीन सामने आया है. चीन ने कहा है कि दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने में जहां तक बनेगा मदद करेगा. चीन ने पाकिस्तान से कहा है कि वो उसकी संप्रभुता और टेरिटोरियल इंटीग्रिटी को बनाए रखने में मदद करेगा. साथ ही उसने एक-दूसरे पर एयर स्ट्राइक के बाद से दोनों देशों की सुलह की पहल का स्वागत किया है. तनाव के बाद राजनयिक संबंधों को ठीक करने की दिशा में कदम उठाए गए हैं.

चीन के विदेश मंत्री सुन वेइदॉन्ग ने मध्यस्थता मिशन पर पाकिस्तान का दौरा किया है. चीनी विदेश मंत्रालय ने एक बयान में सोमवार को कहा कि वह “मतभेदों को पाटने” के लिए पाकिस्तान और ईरान के साथ बातचीत में है. बता दें कि शी जिनपिंग हाल के महीनों में इजराइल-गाजा से लेकर रूस-यूक्रेन युद्ध तक में शांति की बात कर चुके हैं. ऐसे में स्पष्ट है कि जिनपिंग पाकिस्तान-ईरान में भी शांति दूत बनना चाहते हैं. चीन ने 18 जनवरी को एक-दूसरे के खिलाफ मिसाइल हमलों के बाद पाकिस्तान और ईरान के बीच तनाव कम करने के लिए “रचनात्मक भूमिका” निभाने की पेशकश की और दोनों देशों से “संयम और शांति बरतने और तनाव बढ़ाने से बचने” की अपील की.

ये भी पढ़ें: अमेरिका में Donald Trump के लिए कैसे बड़ी चुनौती बन रही ये भारतवंशी महिला

ईरान-पाकिस्तान ने एक-दूसरे पर किए एयर स्ट्राइक

18 जनवरी को, पाकिस्तान ने ईरान के सिएस्तान-बलूचिस्तान प्रांत में “आतंकवादी ठिकानों” के खिलाफ “सटीक सैन्य हमले” किए थे, जिसमें 9 लोग मारे गए थे. उससे पहले ईरान ने 16 जनवरी को पाकिस्तान के अनियंत्रित बलूचिस्तान में सुन्नी बलूच आतंकी समूह जैश अल-अदल के दो ठिकानों को निशाना बनाया था.

आपसी संबंधों को बढ़ाने में मदद करेगा चीन

ईरान-पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने के लिए चीन के मध्यस्थता की कोशिशों पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि “चीन ईरान और पाकिस्तान द्वारा अपने संबंधों को सुधारने में की गई अच्छी प्रगति का स्वागत करता है और आपसी संबंधों को और बढ़ाने में उनका समर्थन करता है.”

ये भी पढ़ें: सऊदी अरब के मदीना में मिली ऐसी चीज, वैज्ञानिक रह गए हैरान

पाकिस्तान वन चाइना पॉलिसी का समर्थक, चीन ने दिया ये भरोसा

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अली के साथ चीनी विदेश मंत्री की मुलाकात के बारे में चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि चीन और पाकिस्तान सदाबहार रणनीतिक सहयोगी साझेदार हैं. पाकिस्तान चीन की वन चाइना पॉलिसी का समर्थक है जिसपर चीनी विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान की सराहना की. उन्होंने कहा, “पाकिस्तान को उसकी संप्रभुता, स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता के साथ-साथ उसकी एकता, स्थिरता, विकास और समृद्धि की रक्षा करने में समर्थन करता है.”

Leave a Comment