‘कपड़े उतरवाए, उल्टा लटकाकर गर्म चिमटे से दागा…’ Indore अनाथालय में 21 लड़कियों के साथ बर्बरता, – Stripped hung upside down burnt torture 21 girls at Indore orphanage allege abuse lcla


मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) में स्थित अनाथालय (Orphanage) की लड़कियों ने स्टाफ मेंबर्स पर गंभीर आरोप लगाए हैं. यहां 4 से 16 साल की लड़कियों ने पुलिस को अपनी आपबीती सुनाई तो अफसर भी हैरान रह गए. इस मामले में शिकायत पर इंदौर पुलिस ने अनाथालय के 4 स्टाफ सदस्यों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. पुलिस गंभीरता से इस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

जानकारी के अनुसार, इंदौर के अनाथालय की 21 लड़कियों ने स्टाफ पर आरोप लगाया है कि उन्हें यातनाएं दी गईं. उनके कपड़े उतारवाकर लोहे के चिमटे से दागा गया. जबरन लाल मिर्च जलाकर धुएं में रखा गया और रेलिंग से उल्टा लटका दिया गया.

बता दें कि 13 जनवरी को इंदौर में वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट द्वारा संचालित अनाथालय में बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) की एक टीम ने औचक निरीक्षण किया था. इसके बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ.

अनाथालय की लड़कियों ने जब अधिकारियों को आपबीती सुनाई तो वे दंग रह गए. पुलिस ने शिकायत के आधार पर वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट के चार स्टाफ सदस्यों के खिलाफ किशोर न्याय अधिनियम और पॉक्सो के तहत मामला दर्ज किया है.

अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त बोले- केस दर्ज कर की जा रही है कार्रवाई

इंदौर के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अमरेंद्र सिंह ने बताया कि लड़कियों ने अपने बयान में उत्पीड़न की बातें बताई हैं. इसके आधार पर पुलिस ने वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट के चार कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया है. आरोपियों की पहचान आयुषी, सुजाता, सुमन, आरती और बबली के रूप में की गई है.

घटना को लेकर क्या बोले इंदौर के कलेक्टर?

इंदौर कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि अनाथालय में रहने वाली लड़कियां अलग-अलग जिलों से हैं. निरीक्षण के दौरान पता चला कि इन लड़कियों के साथ दुर्व्यवहार किया गया है. हमने इस मामले की व्यापक जांच शुरू कर दी है. सीडब्ल्यूसी की रिपोर्ट के बाद उचित कानूनी कार्रवाई की गई है. मामले में आगे की जांच जारी है.

Leave a Comment