कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न का ऐलान, PM मोदी का आभार जताने के लिए नीतीश ने डिलीट की पोस्ट – Karpoori Thakur Bharat Ratna Bihar Nitish Kumar delete post to thanks PM Modi ntc


केंद्र सरकार ने मंगलवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की घोषणा की. कई राजनीतिक दलों ने मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत किया. केंद्र सरकार का आभार जताने में बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी पीछे नहीं रहे. लेकिन पीएम मोदी को आभार जताती उनकी सोशल मीडिया पोस्ट चर्चा में आ गई है.

नीतीश कुमार ने सबसे पहले रात 9.14 मिनट पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट कर कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री और महान समाजवादी नेता कर्पूरी ठाकुर को देश का सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ दिया जाना हार्दिक प्रसन्नता का विषय है. केंद्र सरकार का यह अच्छा निर्णय है.कर्पूरी ठाकुर को उनकी 100वीं जयंती पर दिया जाने वाला यह सर्वोच्च सम्मान दलितों, वंचितों और उपेक्षित तबकों के बीच सकारात्मक भाव पैदा करेगा. हम हमेशा से ही कर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ देने की मांग करते रहे हैं. वर्षों की पुरानी मांग आज पूरी हुई है.

लेकिन दिलचस्प ये था कि इस पोस्ट में नीतीश कुमार ने पीएम मोदी का आभार नहीं जताया था. कहा जा रहा है कि इस वजह से कुछ ही मिनट के भीतर उन्होंने अपने आधिकारिक हैंडल से इस पोस्ट को डिलीट कर दिया और रात 10.50 मिनट पर एक नया पोस्ट किया. यह पोस्ट पिछली पोस्ट जैसी ही थी लेकिन पोस्ट के अंत में इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उन्होंने आभार जताया था. 

नीतीश कुमार का ये कदम कुछ कहता है?

नीतीश कुमार के इस कदम को लेकर उनकी बीजेपी से बढ़ती नजदीकियों के कयास लगाए जा रहे हैं. कहा जा रहा है कि उनका ये कदम बीजेपी से नजदीकियों और INDIA गठबंधन से बढ़ती दूरी का संकेत है. 

आरजेडी और जेडीयू के बीच क्रेडिट लेने की मची होड़

केंद्र सरकार ने मंगलवार को कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने का ऐलान किया. इसे लेकर बिहार में जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के बीच क्रेडिट लेने की होड़ मच गई है. दोनों ही पार्टियां दावा कर रही हैं कि उन्होंने केंद्र सरकार के समक्ष मांग की थी कि कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिया जाए. और उन्हीं के प्रयासों की वजह से ठाकुर को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने का ऐलान किया है.

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने देर रात सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि कर्पूरी उनके राजनीतिक और वैचारिक गुरु हैं. लालू ने दावा किया कि उनके प्रयासों की वजह से ही कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न मिल रहा है. 

ठीक इसी तरह लालू यादव के बेटे और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न से सम्मानित करने के ऐलान के केंद्र के फैसले का क्रेडिट लेने का दावा किया. 

वहीं, जेडीयू के प्रवक्ता अभिषेक झा ने कर्पूरी ठाकुर के लिए इस सर्वोच्च नागरिक सम्मान के लिए केंद्र सरकार को बधाई दी. और इस फैसले को जेडीयू का प्रयास बताया. 

Leave a Comment