जोगी का भेष, इमोशनल ब्लैकमेल और… नफीस की पोल खुलने पर भी मां ने दिया साथ, कही ये अजीबो-गरीब बात – amethi fraud boy jogi arun urf nafees gonda ki kahani he called himself lost son lclcn


उत्तर प्रदेश के अमेठी में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. बीते दिनों जिले के खारूली गांव में एक युवक जोगी के भेष में पहुंचा था. उसका दावा था कि वो गांव के एक परिवार का बेटा है, जो कि 22 साल पहले गायब हो गया था. उसने खुद को अरुण उर्फ पिंकू बताया था. मगर, उसका सच सामने आया तो लोगों के होश उड़ गए. दरअलव वो गोंडा निवासी नफीस निकला. अब इस मामले में उसकी मां सामने आई है.

गोंडा में देहात कोतवाली क्षेत्र के टिकरिया गांव निवासी नफीस की मां जलीबुन ने उसकी तस्वीर देखकर उसकी पहचान की है. जलीबुन ने कहा, नफीस शादीशुदा है और मांगकर खाता है. वो एक महीने पहले गांव आया था. हमारे तीन बेटे हैं. गांव में सभी लोग जोगी (सन्यासी के भेष में मांगने) का काम करते हैं. 

ये भी पढ़ें- पिंकू निकला नफीस… जोगी के भेष में पहुंचा था अमेठी, बेटा बनकर कई लोगों को लगा चुका है चूना

जलीबुन ने सवाल उठाया कि नफीस का चेहरा किसी के बच्चे से मिल गया होगा. इस पर परिवार ने कहा होगा कि हमारा बेटा है. मगर, ऐसे कोई थोड़े ही अपना बेटा बना लेगा. लोग ये भी तो नहीं देखते हैं कि हमारा बेटा है या किसी और का. मुझे कुछ नहीं मालूम. हमें नहीं मालूम कि उसने क्या बताया क्या नहीं. अगर, ऐसा बताया है तो गलत किया है.

नफीस की पोल खुलने के बाद होंगे और बड़े खुलासे!

बताया जा रहा है कि नफीस का ही एक भाई साल 2021 में मिर्जापुर के एक घर पहुंचा था. यहां का एक लड़का कई साल पहले लापता हो गया था. नफीस के भाई ने इस दौरान खुद को गायब हुआ बेटा बताया था और ठगी की थी. इन घटनाओं से ये आशंका लगाई जा रही है कि ये सभी पहले पता लगा लेते हैं कि किसके घर का बेटा वर्षों पहले गुम हुआ था. फिर जोगी का भेष रखकर वहां पहुंचते हैं. 

वर्षों पहले खोए बेटे को अचानक इस रूप में देखकर परिजन खुशी में विह्वल होकर उसकी बात को ही सही मान लेते हैं और ठगी का शिकार हो जाते हैं. कुछ ऐसा ही अमेठी के खारूली गांव में हुआ. जोगी के भेष में पहुंचे गोंडा के नफीस ने खुद को 22 साल पहले गायब हुए अरुण उर्फ पिंकू बताया और घरवाले झांसे में आ गए.

‘अमेठी पहुंचे नफीस ने खुद को बताया था रतिपाल का बेटा’

कहा जा रहा है कि पुलिस की जांच में ये पता चलेगा कि यह गिरोह कितने घरों के गायब हुए बेटों को उनका बेटा बताकर ठगी की है. बताते चलें कि बीते दिनों नफीस अमेठी पहुंचा था. उसने खुद को रतिपाल सिंह का वो बेटा बताया था जो 22 साल पहले घर से लापता हुआ था.

उसे जोगी के भेष में देखकर परिजन भावुक हो गए थे. वो फूट-फूटकर रोने लगे थे. उनका वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था. वीडियो में नफीस जोगी भेष में सारंगी बजाते हुए भजन-कीर्तन करते हुए देखा गया था.

रिपोर्ट- आंचल श्रीवास्तव.

Leave a Comment