तकिये या तौलिये को बनाया हथियार… सूचना सेठ ने बेटे को कैसे मारा? पोस्टमार्टम से खुला राज – Suchna seth pressed sons mouth with pillow or towel Doctor who conducted postmortem claims lcls 


आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की दुनिया में पहचान बना चुकी 39 साल की सूचना सेठ (Suchana Seth) अब पुलिस की गिरफ्त में है. अपने चार साल के बेटे की हत्या के बाद गोवा से बेंगलुरू वापस लौटने के दौरान कर्नाटक के चित्रदुर्ग के पास उसे गिरफ्तार कर लिया गया था. कार में रखे उसके बैग में बेटे का शव भी कर्नाटक पुलिस ने बरामद कर लिया था.  

बच्चे का पोस्टमार्टम किया जा चुका है. सरकारी अस्पताल हिरियुर के प्रभारी चिकित्सक डॉ. कुमार नाइक ने शव के पोस्टमार्टम के बाद हत्या का तरीका बताया है. उन्होंने बताया कि निश्चित रूप से बच्चे की हत्या करने के लिए किसी हथियार का प्रयोग किया गया होगा. यह हथियार तकिया या तौलिया हो सकता है, जिसका इस्तेमाल लड़के का गला घोंटने के लिए किया गया होगा.

36 घंटे पहले किया गया होगा मर्डर 

जब डॉ. कुमार नाइक से पूछा गया कि बच्चे की मौत कितने घंटे पहले हुई होगी, तो उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम करने से करीब 36 घंटे पहले. क्या बच्चे के शव पर कोई अन्य खून के निशान थे? इस पर उन्होंने कहा कि शरीर पर कहीं अन्य खून का निशान नहीं है. गला घोंटने के दबाव से बच्चे के चेहरे की नसें उभर गई हैं. 

पिता ने 7 जनवरी को वीडियो कॉल पर की थी बेटे से बात 

पुलिस ने बताया कि मूल रूप से पश्चिम बंगाल की रहने वाली सूचना सेठ बेंगलुरू आई थीं. वहां उसे एक शख्स से प्यार हुआ और दोनों ने 2010 में शादी कर ली. मगर, शादी के बाद दोनों के बीच काफी झगड़े होते थे. इसके बाद उन्होंने तलाक के लिए अर्जी दायर की और पिता को रविवार को अपने बेटे से मिलने की अनुमति दी गई.

पिता ने रविवार 7 जनवरी को अपने बेटे को भी वीडियो कॉल किया था. दरअसल, वह इंडोनेशिया में था और उससे व्यक्तिगत रूप से नहीं मिलने नहीं आ सकता था. इसके अगले दिन यानी 8 जनवरी को बच्चे की गोवा के कैंडोलिम इलाके के सोल बनयान ग्रैंड होटल के कमरे में हत्या कर दी गई. 

पति के वकील ने दावा किया कि सूचना सेठ को गिरफ्तार करने के बाद जब पुलिस ने उससे बात की, तो वह मानसिक रूप से स्वस्थ और सामान्य लग रही थी. 

कौन है सूचना सेठ, जिसने अपने बेटे की कर दी हत्या 
 
बताते चलें कि सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ बताई जा रही है. सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है. उसने जीविकोपार्जन के लिए एआई, डेटा एनालिटिक्स आदि कई चीजों में हाथ आजमाया. वकील ने यह भी दावा किया कि दोनों का तलाक कागजों पर नहीं हुआ है. वे अलग-अलग रह रहे थे.

क्या है हत्या का पूरा मामला 

सूचना सेठ तीन दिन गोवा घुमाने के बहाने अपने चार साल के बेटे के साथ बेंगलुरू से फ्लाइट से आई थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने-फिरने के बाद अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद उसने पुलिस को बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. 
 
इसके बाद रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके सूचना सेठ होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने में फोन कर पुलिस को बुलाया. पुलिस ने कैब ड्राइवर को फोन कर कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. 

ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा. इसके बाद इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उससे बच्चे की लाश मिली, तो पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया. 

इनपुट- अनाघा 

Leave a Comment