महादेव सट्टेबाजी ऐप मामला: नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़ा जालसाज, 17 की तलाश जारी – Noida Mahadev betting app case Man booked under Gangsters Act lclt


देश भर में चर्चित महादेव गेमिंग ऐप से जुड़े गैंगस्टर एक्ट के एक आरोपी को नोएडा सेक्टर-39 पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार किया है. इस मामले में सोमवार को पहली गिरफ्तारी झांसी के अक्षय तिवारी की हुई. पुलिस ने उसे सेक्टर-37 बस स्टैंड के पास से गिरफ्तार किया. उसके साथियों की तलाश में दबिश दी जा रही है. दो माह पहले गिरोह से जुड़े 18 आरोपियों पर नोएडा पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट लगाया था.

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, नोएडा में भी इस ऐप के जरिए फ्रॉड का रैकेट चल रहा था. रैकेट सेक्टर-108 की एक कोठी किराए पर लेकर चलाया जा रहा था. जिसका कुछ महीने पहले पुलिस ने पर्दाफाश किया था. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बाकी 17 आरोपी भी गिरफ्तार किए जाएंगे. गेमिंग ऐप फ्रॉड से जो संपत्ति इस गैंग ने कमाई है, उसे भी जब्त करने की कार्रवाई पुलिस करेगी. आरोपियों की चल और अचल संपत्ति को चिह्नित किया जा रहा है. थाना प्रभारी ने बताया कि महादेव बेटिंग एप ऑनलाइन सट्टेबाजी के लिए बनाया एप है. यह यूजर्स के लिए पोकर, कार्ड गेम्स, चांस गेम्स नाम से लाइव गेम खेलने के लिए मंच है.

इसके साथ ही ऐप के जरिए क्रिकेट, बैडमिंटन, टेनिस, फुटबॉल जैसे खेलों और चुनावों में अवैध सट्टेबाजी भी की जाती थी. केंद्र सरकार ने ईडी के आग्रह पर महादेव सट्टेबाजी एप पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है. ऐप को बंद करने के लिए नोएडा पुलिस ने भी पत्र लिखा था. गिरोह से जुड़े कई आरोपी इस समय विदेश में हैं. नोएडा में जिस रैकेट का पर्दाफाश हुआ था उसे सौरभ नाम का व्यक्ति दुबई से चला रहा था. तरुण नोएडा का हेड था. तरुण ने किराये पर कोठी लेकर यहां पूरा सेटअप बनाया हुआ था.

Leave a Comment