‘सोचिए, एक सामान्य लड़की…’, जज ज्योत्सना की मौत पर प्रियंका गांधी का सरकार पर हमला – Priyanka Gandhi attack Yogi government on Badaun judge Jyotsna Rai death lclp


यूपी के बदायूं जिले में हुई महिला जज ज्योत्सना राय (Jyotsna Rai) की मौत मामले में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के बांदा जिले में कुछ हफ्ते पहले एक महिला जज ने इच्छा मृत्यु मांगी थी. अब बदायूं में महिला जज का शव उनके घर में पाया गया है. इसकी जांच पर उनके परिवार ने गंभीर सवाल उठाए हैं.

प्रियंका गांधी ने कहा कि भाजपा राज में महिला जजों की सुरक्षा का ये हाल है. सोचिए कि एक सामान्य लड़की हर दिन किस भय के साथ जीती होगी. NCRB के मुताबिक, महिलाओं के खिलाफ अपराध में उत्तर प्रदेश नंबर-1 है. हर घंटे 8 महिलाएं अपराध का शिकार बनती हैं.

ये भी पढ़ें- हत्या का आरोप, पुलिस पर सवाल और… जज Jyotsna Rai की मौत मामले में आया नया मोड़
 

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश महिलाओं के लिए पूरी तरह असुरक्षित हो चुका है. सुरक्षा के सारे बड़े-बड़े दावे सिर्फ विज्ञापनों में हैं. महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध के आंकड़े यह दिखाते हैं कि सरकार असल में महिला सुरक्षा को लेकर कितनी गंभीर है. अब महिलाओं की और समाज की जागरूकता ही उन्हें दमन और हिंसा के इस भंवर से निकालेगी.

‘बेटी को मारकर लटकाया गया’

बताते चलें कि कल सुबह करीब 9 :30 बजे यूपी के मऊ जनपद की रहने वाली ज्योत्सना राय का शव उनके आवास पर लटका हुआ पाया गया था. पुलिस ने आत्महत्या की आशंका जताई थी. सुसाइड की खबर पाकर उनके परिजन बदायूं पहुंचे. इस दौरान पिता ने पुलिस को दी शिकायत में अज्ञात लोगों पर बेटी को मारकर लटकाने का आरोप लगाया है.

‘पुलिस को फिंगर प्रिंट लेने चाहिए थे’

ज्योत्सना के भाई ने भी पुलिस जांच पर ही कई सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि कोई दरवजा तोड़कर अंदर घुसा, उसमें लॉक ही नहीं था. पुलिस को फिंगर प्रिंट लेने चाहिए थे. जो नहीं लिए गए. डायरी के कई पेज फटे हुए थे. पुलिस को पूरे मामले की जांच सही तरीके से करनी चाहिए.

Leave a Comment