14 फरवरी को यूपी में पहुंचेंगी राहुल गांधी की न्याय यात्रा, 11 दिनों में 20 जिलों का सफर करेगी तय – Rahul Gandhi Nyay Yatra will reach UP on February 14 will travel to 20 districts in 11 days ntc


लोकसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 14 फरवरी को उत्तर प्रदेश पहुंचेगी. यह एक ऐसा प्रदेश है जहां INDIA ब्लॉक में सीटों के बंटवारे को लेकर अभी भी पेंच फंसा हुआ है. राहुल की इस न्याय यात्रा के लिए कांग्रेस ने 20 जिलों में कोऑर्डिनेटर बनाए हैं और वरिष्ठ नेताओं को अलग-अलग जिम्मेदारी सौंप गई है. उत्तर प्रदेश में न्याय यात्रा 11 दिनों में 20 जिलों का सफर तय करेगी और 25 फरवरी को आगरा होते हुए राजस्थान चली जाएगी. 

यूपी के इन जिलों से गुजरेगी यात्रा

राहुल गांधी की यह यात्रा चंदौली, बनारस ,भदोही, प्रयागराज प्रतापगढ़ ,अमेठी ,रायबरेली ,लखनऊ ,सीतापुर ,लखीमपुर खीरी शाहजहांपुर, बरेली, रामपुर ,मुरादाबाद ,अमरोहा , संभल,बुलंदशहर अलीगढ़ और हाथरस होते हुए आगरा से राजस्थान में प्रवेश करेगी. कांग्रेस ने 6 फरवरी को यात्रा को लेकर एक बड़ी बैठक बुलाई है जिसमें हर जिले का एक कोऑर्डिनेटर मौजूद रहेगा. इस यात्रा को सफल बनाने के लिए एक वॉर रूम भी बनाया गया है जो यात्रा की सीधी मॉनिटरिंग करेगा.

प्रदेश के कोऑर्डिनेटर और पूर्व सांसद पीएल पुनिया, सह संयोजक और सीएलपी लीडर आराधना मोना मिश्रा, विधायक वीरेंद्र चौधरी, मीडिया अध्यक्ष और पूर्व मंत्री डॉक्टर सीपी राय राहुल गांधी की इस पूरी यात्रा को सफल बनाने के लिए लगातार मीटिंग कर आगे बढ़ रहे हैं.

6700 किमी की दूरी तय करेगी यात्रा

दरअसल 2024 चुनाव से ठीक पहले राहुल गांधी ने भारत जोड़ो न्याय यात्रा का ऐलान कर एक बार फिर पार्टी को मजबूत करने की कोशिश की है. ये न्याय यात्रा 20 मार्च तक चलेगी और 15 राज्यों में करीब 6700 किमी की दूरी तय करेगी. एक दिन पहले यात्रा के आगाज के दौरान राहुल ने केंद्र सरकार पर मणिपुर को लेकर जमकर हमला बोला था.

यात्रा की शुरुआत में आयोजित जनसभा में बड़ी संख्या में महिला और युवा शामिल हुए. बहुजन समाज पार्टी से निलंबित सांसद दानिश अली भी इस यात्रा का हिस्सा बने. कांग्रेस का कहना है कि लोकसभा चुनाव से पहले निकाली जा रही यह यात्रा 67 दिन में 15 राज्यों और 110 जिलों से होकर गुजरेगी.

Leave a Comment