UP: अखिलेश यादव का मायावती पर पलटवार, बोले- उन पर ऊपर से दबाव है… – UP Akhilesh Yadav hit back at Mayawati said there is pressure on her from above ntc


सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती के बीच जुबानी जंग बढ़ती जा रही है. मायावती के अखिलेश को गिरगिट बताने पर सपा प्रमुख ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि समाजवादियों ने मायावती को हमेशा सम्मान देने का काम किया है.

गठबंधन मजबूत करना है हमारी कोशिश: अखिलेश

अखिलेश यादव ने कहा कि इंडिया ब्लॉक को मजबूत होना चाहिए… हमारी तो कोशिश रही है कि सभी दलों को जोड़ने का काम हो… गठबंधन कैसे मजबूत हो हमारी कोशिश यही रहेगी… हमारी कोशिश है कि और दल भी हमारे गठबंधन में जुड़ें.

उन्होंने आगे कहा कि मुझे तो वो समय याद है जब समाजवादियों ने संकल्प लिया था कि देश का पीएम उस वर्ग से हो, जिन्होंने हजारों सालों तक बुराइयां झेली हों…सपा तो उनको पीएम बनाने का सपना देख रही थी.

अखिलेश ने रंग बदलने वाली बात पर मायावती पर तीखा हमला करते हुए कहा कि शायद बहनजी पर कहीं से कोई दबाव आया है… दबाव की वजह से वो आजकल कुछ न कुछ बोल रही हैं.

सीट शेयरिंग पर होगी चर्चा

कांग्रेस की इंडिया ब्लॉक के लिए अगली बैठक आज 17 जनवरी को समाजवादी पार्टी के साथ होगी. वहीं, कांग्रेस राष्ट्रीय लोक दल से सीधे बात नहीं करेगी.
रालोद से गठबंधन सपा के जरिये ही होगा. क्योंकि वह प्राथमिक सहयोगी है. दूसरी ओर सीट बंटवारे की घोषणा करने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य बन सकता है तो AAP के साथ सीटों के तालमेल की घोषणा से पहले एक और दौर की बैठक होने वाली है.

अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने यह ऐलान कर दिया है कि हम किसी से गठबंधन किए बगैर चुनाव मैदान में उतरेंगे. मायावती ने चुनाव बाद गठबंधन का विकल्प खुला रखा है लेकिन साथ ही यह भी साफ कहा है कि बसपा किसी को भी फ्री में समर्थन नहीं देगी. मायावती के इस ऐलान के साथ ही यह साफ हो गया है कि यूपी में लड़ाई त्रिकोणीय होगी. अब चर्चा इसे लेकर भी होने लगी है कि मायावती के ‘एकला चलो’ की पॉलिटिक्स से कांग्रेस, सपा और बीजेपी में किसे नफा हो सकता है और किसे नुकसान?

Leave a Comment