Valentine Day से पहले क्रांति सेना का लठ पूजन, लव जिहाद को लेकर कही ये बात – Valentine Day Kranti Sena lath puja said this about love jihad in Muzaffarnagar lclcn


उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में शनिवार को क्रांति सेना ने अपने कार्यालय पर लठों को तेल पिलाकर लठ पूजन का आयोजन किया. इस कार्यक्रम में महिला और पुरुष कार्यकर्ताओ ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया. क्रांति सेना का कहना है कि कुछ लोग वेलेंटाइन डे की आड़ में लड़कियों के साथ बदतमीजी और छेड़खानी करते हैं. साथ ही लव जिहाद को फैलाते हैं. उन्हें सबक सिखाने के लिए लठ पूजन किया गया है.

क्रांति सेना के प्रदेश महासचिव मनोज सैनी ने बताया कि शनिवार को क्रांति सेना के द्वारा लठ पूजन का आयोजन किया गया है. जो लोग वेलेंटाइन डे की आड़ में लड़कियों से बदतमीजी और छेड़खानी करते हैं और लव लव जिहाद फैलाते हैं. उनको सबक सीखने के लिए लठ पूजन का आयोजन किया गया है.

रेस्टोरेंट संचालकों से अपील, अश्लील आयोजन न करें

हम उन सभी को चेतावनी देना चाहते हैं कि जो लोग वेलेंटाइन डे की आड़ में लड़कियों से छेड़खानी करते हैं. लड़की का जीवन खराब करने वाले लोग सुधर जाए. नहीं तो अपने तरीके से उनको सुधार दिया जाएगा. साथ ही सभी रेस्टोरेंट संचालकों से भी हम अपील करते हैं कि वैलेंटाइन डे की आड़ में अपने यहां ऐसा कोई अश्लील आयोजन न करें कि हमें उनके खिलाफ विरोध करना पड़े.

ये भी पढ़ें- दिलजलों के लिए इस कंपनी का खास ऑफर, ‘धोखेबाज मोहब्बत’ को टॉयलेट में फ्लश करने का मौका

वैलेंटाइन डे की आड़ में लव जिहाद को देते हैं बढ़ावा

वैलेंटाइन डे की आड़ में बहुत से लोग लव जिहाद को बढ़ावा देते हैं. सभी जगह पर हमारे कार्यकर्ता निगाह रखे हुए हैं. आज से ही निगाह रखनी शुरू कर दी गई है. जहां भी इस तरह है का कुछ मिलेगा उनको अपने तरीके से सबक सिखाया जाएगा. प्रशासन ने हमसे वादा किया था कि कहीं पर भी लव जिहाद फैलाने का कोई कार्यक्रम नहीं किया जाएगा. कहीं पर भी छेड़खानी नहीं होने दी जाएगी. प्रशासन अपने तरीके से इन चीजों पर रोक लगाता है, तो हम प्रशासन का साथ देंगे. 

लठ पूजन करते क्रांति सेना.
लठ पूजन करते क्रांति सेना.

क्रांति सेना की महिला जिलाध्यक्ष ने कही ये बात

वहीं, क्रांति सेना की महिला जिलाध्यक्ष पूनम चौधरी ने बताया कि बसंत पंचमी का त्यौहार भी आने वाला है. हम लोगों से यही अपील करते हैं कि वह वेस्टर्न कल्चर को न अपनाए और वैलेंटाइन डे जैसे फेस्टिवल से दूर रहें. क्योंकि यह हमारी भारतीय संस्कृति का हिस्सा नहीं है.

लाठी-डंडों से की जाएगी सेवा

हमने कार्यालय पर लठ पूजन किया है और सभी महिलाओं ने संकल्प लिया है कि अगर 14 फरवरी वैलेंटाइन डे के दिन कोई भी प्रेमी जोड़ा किसी रेस्टोरेंट, होटल और सिनेमा हॉल में एक साथ बैठे देखें गए, तो उनकी लाठी डंडों से सेवा की जाएगी.

Leave a Comment